अपने बच्चे के साथ क्वालिटी टाइम बिताने की 9 टिप्स

अपने बच्चे के साथ क्वालिटी टाइम बिताने की 9 टिप्स

माता पिता का बच्चों के साथ बिताया समय ऐसा होना चाहिए वो सही मायनों में बच्चों को दिया गया विशेष समय हो।

 यहां व्यस्त परिवारों के लिए नौ सुझाव दिए गए हैं:
माता पिता का बच्चों के साथ बिताया समय ऐसा होना चाहिए वो सही मायनों में बच्चों को दिया गया विशेष समय हो।
 यहां व्यस्त परिवारों के लिए नौ सुझाव दिए गए हैं:
Photo by Daria Obymaha from Pexels

अपने बच्चों के साथ पर्याप्त समय (क्वालिटी टाइम) व्यतीत नहीं कर पा रहे हैं?

आज हर व्यक्ति का जीवन बहुत व्यस्त है और काम और जीवन की जिम्मेदारियों के बीच, दिन पलक झपकते ही बीत जाते हैं। इससे बीच माता-पिता को ये चिंता सताती कि वे अपने बच्चों के साथ पर्याप्त समय (क्वालिटी टाइम) व्यतीत नहीं कर पा रहे हैं। 

उन्हें चिंता रहती है कि इससे बच्चों के विकास में देरी हो सकती है।

ऐसे में जब आप घर में रहने वाले माता-पिता का एक सोशल मीडिया पोस्ट देखते हैं।

 जिसमें वे अपने बच्चों को पढ़ा रहे है, उनके साथ चित्रकारी कर रहे है या स्थानीय चिड़ियाघर ले जा रहें हैं, तो आपकी चिंता और बढ़ जाती है।

आप निराश ना हों! हाल के अध्ययनों से पता चला है कि समय की मात्रा की तुलना में गुणवत्ता से समय बिताना अधिक महत्वपूर्ण है। 

यहां हम बच्चों को कम समय देने की या उनका समय काटने की बात नहीं कर रहे हैं। बच्चों को माता-पिता और देखभाल करने वालों के साथ उच्च-गुणवत्ता वाला समय चाहिए। 

माता-पिता के साथ बिताया गया गुणवत्ता का समय बच्चों के लिए अधिक फायदेमंद होता है। और यह अनुभव बड़े होने पर उन पर सकारात्मक प्रभाव छोड़ता है। 

माता पिता का बच्चों के साथ बिताया समय ऐसा होना चाहिए वो सही मायनों में बच्चों को दिया गया विशेष समय हो।

 यहां व्यस्त परिवारों के लिए नौ सुझाव दिए गए हैं:

1. “हमारा” समय

     अपने बच्चे के साथ दैनिक रूप से बैठिए। आप इससे “हमारा” समय कह कर भी संभोधित कर सकते है। और यदि ऐसा करना संभव ना हो तो अन्य तरीकों को अपनी दिनचर्या में जोड़ें।

जैसे कि आपके बच्चे के लंच बॉक्स में एक नोट छोड़ना या घर के व्हाइटबोर्ड पर कुछ अच्छा लिखना।

2. दैनिक कार्य

     आप और आपके बच्चे के लिए एक विशेष कार्य निश्चित करें जो आप रोज करें।

उदाहरण के लिए, सोने से पहले बच्चे की रुचि की कोई किताब उसके साथ पढ़ें।

3. प्यार का महत्व

     अपने बच्चे को बताएं कि आप हर दिन उससे प्यार करते हैं।

और उसे बताएं कि वह आपके लिए कितना महत्वपूर्ण है और वह आपको कैसा महसूस कराता है।

4. प्रशंसा करें

     उदाहरण के लिए, यदि आपका बच्चा आपके कहे बिना ही कुछ अच्छा करे तो उसकी प्रशंसा जरूर करें।

4. साथ खाएं

     जब भी संभव हो अपने बच्चों के साथ भोजन बनाएं और खाएं। यदि समय सीमित है, तो साधारण कुछ ऐसा बनाए जो आसान है और जिसमें बहुत कम तैयारी की आवश्यकता हो।

सेब जैसे स्वस्थ स्नैक कहते हुए भी आप बच्चों से दिन भर की बातें कर सकते हैं।

6. “आप चुनें” 

     अपने बच्चे को उपयोग में आने वाला चीज़ों का चयन करने दें।

फिर यदि आपको लगे कुछ अनुचित खरीदा जा रहा है, तो उसके बारे में बच्चे को कारण सहित स्पष्टीकरण दें।  

7. अपने बच्चे के साथ खेलें

     अपने बच्चे के साथ खेलें। बच्चे के साथ बिताया गया हर समय उससे व्यक्तित्व विकास को सकारातमकता प्रदान करेगा।

8. मूर्ख बनो

     उनके प्रश्नों के उत्तर में कभी कभी आप मूर्ख बने रहें। या उनसे प्रश्न पूछें।

9. ध्यान भटकने वाली चीजें थोड़ी देर दूर रखें।

     जब आप अपने बच्चे के साथ समय बिताते हैं तो बाकी सब बंद कर दें।

फोन, आ ई पेड,, सोशल मीडिया या टेलीविजन ना देखें।

अपने बच्चे के साथ अपने रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए आपको उनके साथ क्वालिटी टाइम बिताने की जरूरत है। 

माता-पिता अपने बच्चे के जीवन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

इस अद्भुत यात्रा में हम सब साथ हैं।
read: What should be a parent’s role in child’s life?

यदि ये सुझाव आपको अपना उत्तर खोजने में मदद करते हैं, तो कृपया टिप्पणी करें।

यदि आप पेरेंटिंग से संबंधित कोई अन्य प्रश्न पूछना हैं, तो आप टिप्पणी भी कर सकते हैं।

Please follow and like us:
Advertisements
Tagged : / / / / / / / /

hi there, thanks for visiting. Please give your feedback.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Translate »
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

%d bloggers like this: