स्कूल में बच्चे की दाखिले की उम्र क्या है?

स्कूल में बच्चे की दाखिले की उम्र क्या है?

 स्कूल में बच्चे की दाखिले की उम्र क्या है? हर माँ सोचती है कि उसका बच्चा सबसे अच्छा होना चाहिए और  उसे उचित उम्र में सब कुछ सीखना चाहिए। बच्चे का स्कूल में दाखिला कराने से  संबंधित निर्णय भी कई प्रश्नों से जुड़ा होता है?

क्या आप का बच्चा स्कूल जाने की सही उम्र पर है?

जब बच्चा अपने जीवन के पहले साल को पार कर लेता है तो माता पिता  बच्चे की प्रारंभिक शिक्षा के बारे में सोचने लगते हैं

 बच्चों की प्रारंभिक शिक्षा किस संस्थान से चालू की जाए या बच्चे का दाखिला किस स्कूल में कराया जाए यह किसी भी गार्डन बैठी महिलाओं के समूह का सामान्य टॉपिक होता है

 किसी छोटे बच्चे को सज धज कर स्कूल जाते देखने पर भी  मां अपने बच्चे को स्कूल भेजने की कल्पना में जुट जाती है।

 इतनी छोटी उम्र के बच्चों को किसी प्ले ग्रुप / नर्सरी जैसे संस्थानों में दाखिला होता है

यहां बच्चे को प्रतिदिन कुछ ही घंटों के लिए उपस्थित होना पड़ता है

इन संस्थानों में बच्चों को सिखाने का तरीका भी इनकी उम्र के हिसाब से दिलचस्प होता है

स्कूल की आवश्यकता

 इतनी कम उम्र के बच्चे के  लिए प्ले स्कूल की भूमिका वैसे ही है जैसे भरे पूरे परिवार के सारे सदस्यों की  परिवार के सबसे छोटे सदस्य के लिए होती है

 यहां बच्चा अपने आसपास की चीजों के बारे में प्रारंभिक ज्ञान प्राप्त करता है

 यही वाह समय होता है जब माता-पिता के अलावा बच्चे का सामाजिक दायरा बढ़ता है

 हर शैक्षणिक संस्थान के अपने नियम होते हैं  जिसका पालन करते हुए एक निश्चित आयोग के ही बच्चों का किसी एक कक्षा में प्रवेश मंजूर करते हैं

परिपक्वता स्तर

परिपक्वता की बात करें तो यह घटक एक प्रमुख है। बेशक, कोई भी बच्चा  पूर्णता परिपक्व नहीं होता, लेकिन कुछ अपनी उम्र के लिए परिपक्व हो सकते हैं। यदि आपके बच्चे को अभी भी हर समय अपने आसपास अपने माता-पिता की उपस्थिति की आवश्यकता है तो पहले बेहतर या होगा कि धीरे-धीरे बच्चे  की स्वतंत्रता की भावना प्रबल की जाए 

 कुछ  आकलन जिनके द्वारा आप जान सकते हैं कि आपका बच्चा स्कूल जाने  के लिए परिपक्व है। 

सामाजिक व्यवहार 

 आपको यह भी विचार करना चाहिए कि क्या आपके बच्चे का सामाजिक विकास हो रहा है

 ध्यान देने योग्य बिंदु यह भी है कि प्ले स्कूल जाकर बच्चों  के सामाजिक विकास में वृद्धि होती है

उदाहरण के लिए,  यदि बच्चा एकलौता हो या उसके परिवार में उसके उम्र के दूसरे बच्चे ना हो या  वह जिस मोहल्ले में रहता है वहां उसके साथी ना हो तो उसका सामाजिक विकास धीमा  होता है 

ऐसे में प्ले स्कूल भेजने पर बच्चों को अपनी ही उम्र के दूसरे बच्चों के साथ रहने का मौका मिलता है

 स्पीच  डीले वाले बच्चे भी दूसरे बच्चों के साथ रहकर जल्दी बोलना सीखने लगते हैं

जब आप अपने बच्चे को प्लेस्कूल में भेजने पर विचार कर रहे हैं, तो पहला कदम यह पता लगाना है कि क्या वह अपनी उम्र के आधार पर योग्य है या नहीं। 

क्या आप का बच्चा स्कूल जाने की सही उम्र पर है?

  क्या बच्चा इतना बड़ा हो चुका है कि  उसका दाखिला किसी स्कूल में करा दिया जाए इसे जानने के लिए आप अपने आपसे कुछ प्रश्न कर सकते हैं 

 यदि प्रश्नों का उत्तर  हां है तो जरूर आपका बच्चा इतना परिपक्व है कि उसका दाखिला किसी प्ले स्कूल में किया जा सकता है:

  • क्या आपका बच्चा वयस्कों और अन्य बच्चों के साथ मौखिक रूप से संवाद करने में सक्षम है?
  • क्या आपका  बच्चा टॉयलेट  जाने आने के लिए प्रशिक्षित है?
  • *क्या  बच्चा प्ले स्कूल की अवधि जो कि 2 या 3 घंटे होती है अपने माता-पिता से अलग रह सकता है?
  • क्या आपके बच्चे में आत्मविश्वास की भावना है और  उसमें अकेले कार्य करने की क्षमता है?
  • क्या आपके बच्चे को घर से बाहर घूमने और नए अनुभव लेने की इच्छा है?
  • *क्या आपके बच्चे  मैं दूसरे बच्चों के साथ  रहने की प्रारंभिक क्षमता विकसित   हुई है?
  • क्या आपके बच्चे में सीढ़ियों पर चढ़ने जैसे नए वातावरण की शारीरिक मांगों से निपटने की क्षमता है?
  • क्या आपके बच्चे ने किसी गतिविधि पर ध्यान केंद्रित करने की क्षमता विकसित की है?
  • *क्या आपका बच्चा स्कूल जाने की इच्छा व्यक्त करता है?
  • क्या बच्चे को माँ के अलावा अन्य लोगों के साथ रहने की आदत है जैसे कि दादी माँ या नौकरानी?
  • कितनी आसानी से वह अन्य लोगों  के साथ घुल मिल जाता है? 
  • क्या बच्चा 1-2 घंटे के लिए माँ और पिताजी को छोड़कर अन्य लोगों के साथ सहज है?

कृपया ध्यान दें कि माता-पिता की इच्छा / बच्चे को खेलने के लिए स्कूल भेजने की आवश्यकता, जाने के लिए बच्चे की तत्परता से अलग है।

जैसे-जैसे आपका बच्चा बढ़ता है, उसके शैक्षणिक माहौल पर  आपका नियंत्रण कम होता जाता है

भविष्य की चिंताओं  की बजाय बच्चे के लाभ को ध्यान में रखते हुए, प्ले स्कूल चुनें। 

अच्छे प्ले स्कूल में क्या देखना चाहिए?

  • केवल प्ले स्कूल के ब्रांड पर विश्वास करके आप अपने बच्चे को वहां ना डालें,  और ना हो स्कूल का चयन इस बिंदु पर करें की इसके बाद नियमित स्कूलों में प्रवेश आसान हो जाएगा। 
  • उन माता-पिता से विश्वसनीय सिफारिशें प्राप्त करें, जिनके बच्चे आपके शॉर्टलिस्ट किए गए स्कूल में पढ़े हैं। 
  • बच्चों से खुद बात करें और देखें कि क्या वे खुश और इच्छुक लगते हैं।
  • पता करें कि क्या प्ले स्कूल का पाठ्यक्रम सर्वांगीण विकास (सामाजिक, भावनात्मक, बौद्धिक और शारीरिक सहित) पर केंद्रित है या केवल एक नियमित स्कूल में प्रवेश प्राप्त करने पर है? 
  • क्या बच्चों के लिए कक्षाएँ आकर्षक हैं?
  • *क्या बच्चों को उन गतिविधियों से अवगत कराया जाता है जो आत्म-अभिव्यक्ति और मोटर कौशल की एक पूरी श्रृंखला के विकास को प्रोत्साहित करते हैं?
  • क्या बच्चों को नियमित रूप से किताबें, पढ़ना, लिखना, गिनती, संगीत, विज्ञान और प्रकृति से अवगत कराया जाता है?
  • क्या स्कूल में अलग-अलग  गतिविधियों को पूर्ण करने के लिए पर्याप्त उपकरण और एक समर्पित क्षेत्र है। क्या बच्चों की देखरेख की जाती है?
  • शिक्षण का माहौल कैसा है? क्या बच्चों को रचनात्मक बनने या खुद के लिए सोचने की अनुमति है?
  • बच्चों के लिए शिक्षकों का अनुपात क्या है?
  • क्या व्यक्तिगत स्वभाव पर आधारित मतभेदों को मान्यता दी गई है?
  • *क्या शिक्षक  बच्चों से सवाल करते हैं और उन्हें अपनी सोच और समस्या को सुलझाने के कौशल का विस्तार करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं?
  • क्या कर्मचारी बच्चे की जरूरतों पर ध्यान देता है?
  • आपके निवास स्थान से प्ले स्कूल कितनी दूर है? 
  • यदि भोजन प्रदान किया जाता है तो क्या भोजन पौष्टिक और विविध हैं?
  • छात्रों के साथ शिक्षकों का व्यवहार कैसा है?

प्रवेश के लिए नियम और शुल्क संरचना क्या है?

प्रत्येक स्कूल की अपनी प्रवेश प्रक्रिया और शुल्क संरचना है। 

प्री-प्राइमरी स्कूल में प्रवेश के लिए क्या प्रक्रिया अपनाई जाती है? 

प्रवेश प्रक्रिया स्कूल से स्कूल में भिन्न होती है। प्रवेश प्रक्रिया के लिए आपको स्कूल से संपर्क करना होगा।

स्कूल से आवेदन एकत्र करें, भरें और आवश्यक दस्तावेजों के साथ जमा करें। 

 यह जानकारी कहाँ से प्राप्त करें?

आप शुल्क, पाठ्यक्रम और अन्य सभी जानकारी आमतौर पर स्कूल की वेबसाइट पर या व्यक्तिगत रूप से उनके कार्यालय में जाकर प्राप्त कर सकते हैं।

प्ले स्कूल में प्रवेश के दौरान आवश्यक दस्तावेज क्या हैं? 

आवश्यक दस्तावेजों की सूची पूरी तरह से एक स्कूल विशेष पर निर्भर करती है, फिर भी यहां उन चीजों की एक सूची है जो आपको प्रवेश प्रक्रिया के दौरान  आपको साथ ले जानी चाहिए।

इन चीजों को पहले से तैयार रखने से आपका समय, ऊर्जा और स्कूल के कार्यालय के कई दौरे बच जाएंगे। 

  • आपके बच्चे की   पासपोर्ट साइज फोटो
  •  बच्चे के साथ अभिभावकों कि एक फैमिली फोटो
  • एक नागरिक निकाय से जन्म प्रमाण पत्र
  • ब्लड ग्रुप की रिपोर्ट
  • आधार कार्ड नंबर
  • माता-पिता / अभिभावक का आईडी प्रूफ की फोटोकॉपी
  • एड्रेस प्रूफ

यह केवल एक अनुमानित सूची है जो किसी भी स्कूल कार्यालय आवश्यक हो सकते हैं 

फिर भी स्कूल से संपर्क करने को आप यह जान सकते हैं कि उन्हें किन दस्तावेजों की जरूरत है।

स्कूल में बच्चे की दाखिले की उम्र क्या है?

आम तौर पर, किसी भी प्ले स्कूल में प्लेग्रुप के रूप में एक प्रवेश स्तर की कक्षा होती है।

इस स्तर के लिए कई अलग-अलग नाम हैं। प्लेग्रुप के लिए सही उम्र आम तौर पर 1 साल 6 महीने से 2 साल तक होगी।

प्ले ग्रुप में बच्चे की दाखिले की उम्र क्या है?

अपने बच्चे को एक  प्ले ग्रुप में ऐडमिशन करने के बारे में निर्णय मोटे तौर पर कई कारकों पर निर्भर करता है। यह उस विशेष बच्चे के समझने के स्तर पर निर्भर करता है।

आयु पर विचार करते समय, 1.5 वर्ष से 2 वर्ष और उससे अधिक आयु के बच्चों को प्ले ग्रुप के लिए भर्ती कराया जा सकता है। यह फिर से एक बच्चे की तत्परता पर निर्भर करता है।

यह आमतौर पर देखा गया है कि 1.5 वर्ष की आयु के बच्चे भी एक प्ले ग्रुप में जाते हैं

और खुद को बहुत अच्छी तरह से समायोजित करते हैं।

प्ले स्कूल जाना भी एक बच्चे की शब्दावली में एक जबरदस्त बढ़ावा देता है। देरी से बोलना सीखने वाले बच्चों मैं भी प्ले स्कूल में प्रवेश लेने के बाद बहुत सुधार देखा गया है।

वे दिन भर तुकबंदी और गीत गाना सीखते हैं। उनके खान-पान में भी बहुत सुधार देखा जाता है।

और ये अकादमिक भागों के अलावा अन्य लाभ हैं। 

यदि कोई बच्चा अपनी उम्र के लोगों की तुलना में स्मार्ट और परिपक्व है,

तो क्या एंट्री लेवल क्लास को छोड़ना और उसे सीधे किंडरगार्टन या प्राइमरी स्कूल में एडमिशन कराना ठीक है?

नर्सरी में बच्चे की दाखिले की उम्र क्या है?

नर्सरी में भर्ती होने वाले बच्चे की न्यूनतम आयु सीमा 2.5 वर्ष है। 

LKG / KG-1 में बच्चे की दाखिले की उम्र क्या है?

कृपया ध्यान दें कि एलकेजी में शामिल होने / प्रवेश के लिए कोई विशिष्ट आयु सीमा मानदंड नहीं है। लेकिन किसी भी सीबीएसई स्कूल में  पहली कक्षा में प्रवेश पाने के लिए न्यूनतम आवश्यक आयु जून के आसपास 5 वर्ष और 6 महीने से अधिक है।

उपर्युक्त तथ्यों से, यह निष्कर्ष निकाला गया है कि एलकेजी में प्रवेश के लिए न्यूनतम आवश्यक आयु न्यूनतम 3.5 वर्ष है। 

UKG / केजी -2 में बच्चे की दाखिले की उम्र क्या है?

यूकेजी में भर्ती होने के लिए आवश्यक आयु 4.5 वर्ष है। 

माता-पिता बच्चे की प्रारंभिक शिक्षा में भागीदारी

कक्षा 1 में बच्चे की दाखिले की उम्र क्या है?

प्रथम श्रेणी में प्रवेश पाने के लिए न्यूनतम आयु 5.6 वर्ष है।

आयु के मानदंडों को पूरा करना CBSE आधारित स्कूलों में प्रवेश पाने के लिए आवश्यक है।  

किसी भी राज्य शासित स्कूल में प्रवेश पाने की आयु सीमा संबंधित राज्य सरकार  के निदेशालय द्वारा तय की जाती है। आयु सीमा राज्य के साथ बदलती रहती है।

इसलिए, प्रवेश और पात्रता  के दाखिले केमानदंड के विवरण प्राप्त करने के लिए स्कूल का दौरा करना बेहतर है।

Please follow and like us:
Advertisements

2 thoughts on “स्कूल में बच्चे की दाखिले की उम्र क्या है?

hi there, thanks for visiting. Please give your feedback.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Translate »
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

%d bloggers like this: